Husband and wife needs your help for fight of neuro diseases | Milaap
Husband and wife needs your help for fight of neuro diseases
4%
Raised
Rs.16,517
of Rs.4,00,000
30 supporters
  • Amitabh

    Created by

    Amitabh Saxena
  • N

    This fundraiser will benefit

    Neetu

    from Mathura, Uttar Pradesh

I, Amitabh Saxena, am an inhabitant of Mathura. I have had Muscular Dystrophy since past 5 years and it has become pretty bad, and I am not able to walk anymore. My wife has been suffering from Cerebral Atrophy since many years, even her condition has become worse and her brain nerves are shrinking, and she's been losing muscle control that's why she's also not able to walk anymore. We have only one son who is 13 years old. According to the doctor, I and my wife would need medicines and physiotherapy for at least a year but let alone therapy and treatment, I don't even have enough money to meet basic needs of life. For the past 5 years, I have lost my savings to our treatments in addition to selling all of my wife's jewelry. Our financial woes have increased so much that I have had to make my son drop out of his school. I request you with folded hands to donate for me and my wife's treatment, I will be grateful to you for my entire life. I have not seen God but whoever helps in these hard times will be God for me.
🙏🙏
मैं अमिताभ सक्सेना मथुरा का निवासी हूं। मुझे पिछले दस सालों से मस्कुलर डिस्ट्रॉफी की प्रॉब्लम है पिछले पांच सालों से मेरी बीमारी बहुत बढ़ गई है और अब मैं चल नहीं पाता हूं।मेरी पत्नी को कई सालों से सेरेब्रल एट्रॉफी की प्रॉब्लम है पिछले दो सालों से उसकी बीमारी भी बहुत बढ़ गई है अब उसके दिमाग की नसें सूखती जा रही हैं और वो अपनी कंट्रोलिंग पावर खोती जा रही है इसलिए वो भी अब चल नहीं पाती है। हमारा एक ही बेटा है वो अभी मात्र बारह साल का है। डाक्टर के अनुसार हम दोनों पति पत्नी को दवाओं के साथ कम से कम एक साल तक फिजियोथैरेपी की जरूरत है लेकिन मेरे पास इलाज तो दूर अपने दैनिक जीवनयापन के लिए भी पर्याप्त पैसा नहीं है। पिछले पांच सालों में हमारी सारी सेविंग्स अपने इलाज में खर्च हो गई यहां तक कि पत्नी के सारे जेवर तक बिक गए अब हालत यह है कि तंगी की वजह से मुझे अपने इकलौते बेटे का स्कूल तक बंद करवाना पड़ा है। मेरा आप सबसे हाथ जोड़कर निवेदन है कि कृपया आप लोग मुझे मेरे दैनिक जीवनयापन के लिए, अपने व पत्नी के इलाज के लिए और मेरे बेटे की पढ़ाई के लिए डोनेट करिए इसके लिए मैं आजन्म आपका आभारी रहूंगा। मैंनें भगवान को तो नहीं देखा लेकिन जो भी इस मुश्किल समय में मेरे डूबते परिवार की मदद करेगा वही मेरे लिए भगवान है।
🙏 🙏

Read More

Know someone in need of funds for a medical emergency? Refer to us
support