Hunger Fight: Serve Food, Spread Happiness | Milaap
Hunger Fight: Serve Food, Spread Happiness
0%
Be the first one to donate
Need Rs.300,000
  • V

    Created by

    Vivek
  • PP

    This fundraiser will benefit

    Poor People

    from Lakhisarai, Bihar

Story

As we all know during this corona pandemic peoples are suffering from various type of problems may be many of them are important but there is one problem which is really an important subject to solve and that is "HUNGER" we have to solve this problem otherwise, result will be more horrible then Corona.
According to World Hunger Index report 2019 india was at 102 position in 117 countries list and now we can't ever imagine what will be the position after this pandemic. Few months ago, when world were unknown to this corona pandemic, there is a pandemic exists for poor helpless people from many decades and that's called HUNGER and this corona pandemic doubles their problems in normal days at least they can try to fight against hunger by doing a lot of activities but now they can't do any thing due to lockdown. How can they fight with two pandemic??
We have to do something...
Capable peoples have to do something for them, according his own capability.
That's why with our personal savings me and a friend of mine started a fight.... a fight against hunger....
HUNGER FIGHT: serve food, spread happiness.
In which we serve ready to eat food 500 to 600 peoples per day most of them are below poverty line and also a large number of socially, mentally and physically disabled persons also womens and children. we want to increase this beneficiary number. In our rural area lots of peoples are below poverty line but we are not able to feed them all, due to lack of money. Please help us... so that, we can feed maximum people. We want to continue this hunger fight also wana reach to maximum beneficiary and wana help them to fight against hunger.

जैसा कि हम सभी जानते है कि इस कोरोना आपदा के दौरान बहुत से लोगो को बहुत सारी परेशानियां है हर किसी की अपनी अपनी परेशानियां है और अपने स्तर पर सब महत्वपूर्ण भी हो सकती है पर एक परेशानी ऐसी है जो वाकई काफी महत्वपूर्ण है और वो है "भूख" जिसे अगर दूर ना किया गया तो मेरे ख्याल से जितने लोग कोरोना आपदा से नही मरेंगे उस से कही ज्यादा इस भूख नामक आपदा से मरेंगे वैश्विक भूख सूचकांक 2019 की रिपोर्ट के अनुसार भारत 117 देश की सूची मे 102 स्थान पर थी जो कि इस आपदा की घड़ी में पता नही किस स्थान पर गयी होगी वैसे आम दिनों में जब ये कोरोना नामक आपदा नही थी तब भी भूख नामक आपदा दशकों से गरीब और असहाय लोगो के जीवन में थी किन्तु इस कोरोना नामक आपदा ने उस जख्म में नमक का काम किया है जो गरीब असहाय लोग आम दिनों में जैसे तैसे कर के भूख नामक आपदा से निपटने का प्रयास किया करते थे इस बंदी के दौरान उस प्रयास पर भी ताला लग गया। हम सभी इस एक आपदा से नही लड़ पा रहे है तो अनगिनत गरीब असहाय लोग दो-दो आपदाओं से कैसे लड़ेंगे? हम सभी को आगे आना होगा जो लोग सक्षम है उन्हें अपने अपने स्तर से हर संभव प्रयास करना होगा और ऐसा ही एक प्रयास हम कर रहे है "हंगर फाइट" जो कि मैं अपनी सेविंग्स से कर रहा हूँ रोज कम से कम 500 से 600 लोगो को भोजन उपलब्ध करा रहा हूँ गाड़ियों में भोजन रख कर गली मोहल्ले में घूम घूम कर जरूरत मंदो को भोजन करवाया जा रहा है किंतु अब सेविंग ज्यादा दिनों तक नही रह पाएगी पर ये काम जारी रखना चाहता हूँ और इसके लिए आप सभी के मदद की जरूरत है और अगर आप सभी का सहयोग मिला तो अनगिनत लोगो तक भोजन पहूँचाया जा सकता है अभी 3 गाड़िया चलती है और करीब 600 लोगो को प्रतिदिन भोजन करवाया जाता है पर अगर आपका सहयोग मिला तो अनेको गाड़िया चला कर अनगिनत लोगो तक भोजन पहुँचाया जा सकता है ग्रामीण क्षेत्रो और छोटे बाज़ारो पर इस लॉक डाउन का काफी बुरा प्रभाव पड़ा है जो लोग रोज कमाते है और रोज खाते है वैसे लोगो की हमारे क्षेत्र में भरमार है पैसों की कमी की वजह से हाथ बंधे हुए है कृपया हमारी मदद करें ताकि ये अभियान जारी रखा जा सके और ज्यादा से ज्यादा लोगो को भूख से लड़ने में मदद की जा सके।

Read More

support