Help son of Brick Kiln workers finish last year of LLB law at Lko Univ | Milaap
Help son of Brick Kiln workers finish last year of LLB law at Lko Univ
100%
Raised
Rs.1,01,450
of Rs.1,00,000
10 supporters
  • Dr Sandeep

    Created by

    Dr Sandeep Pandey
  • AK

    This fundraiser will benefit

    Ashok Kumar

    from Lucknow, Uttar Pradesh

Story

Ashok Kumar, who comes from Schedule Caste community and is a son of brick kiln workers, is unable to clear fees at Lucknow University (LU) for completing last year of his 5-years-integrated Law course LLB (honours) - he is unable to pay due to financial constraints. Earlier he was on a partial scholarship (that barely came through and covered a small part only - see all details in Hindi verbatim as written by intended beneficiary himself below). His phone is 9721961347 (if you wish to speak to him for any further information).

He has successfully completed 8 semesters and remaining 2 semesters are left. LU authorities have given a notice that he will NOT be allowed to sit in examination if his fees dues are not cleared by end of October 2021 (all documents attached at the end of this appeal).

Ashok Kumar was raised in Apna Ghar (from where he went to formal school to finish high school and intermediate). Apna Ghar is a residential facility for children of brick kiln workers near IIT Kanpur to home stay, get human values-based community upbringing, and get formal education - this is run by Asha Trust (founded by Ramon Magsaysay Awardee Dr Sandeep Pandey) and managed by Dr Pandey's colleague Mahesh Kumar (who was chosen by Dr Pandey to accompany him to receive his Award in 2002).

DOCUMENTS (Lucknow University notice, all previous Marksheets, Communication with Lucknow University authorities regarding payment deadlines, copies of receipt of payment of some of the previous semesters etc)

https://drive.google.com/file/d/161v3eTbRQq7il2J3rLdEi6eP4g4FJ0IU/view?usp=sharing
OR
https://bit.ly/ashokkumardocuments

ORIGINAL ACCOUNT IN HINDI BY APPLICANT/ BENEFICIARY ASHOK KUMAR HIMSELF IS GIVEN BELOW

1. मेरे माता पिता ईंट भट्टो में ईट बनाने का काम करते हैं । मैं भी अपने परिवार के साथ रह कर उनके काम में मदद करता था ।

2. ईंट भट्टो में विजय दीदी जी अपना स्कूल नाम से सेन्टर चलती  हैं जिसमे मैं पढ़ने जाता था ।

3. सन 2006 में महेश भईया जी ने Apna Ghar अपना घर नाम से एक केंद्र स्थापित किया जो आईआईटी कानपुर IIT Kanpur के पास नानकारी में था ।

4.2006से 2015 तक मैंने महेश भईया के साथ रह कर कक्षा 3 से 12 की पढ़ाई की ।

5. सन 2015 - 2016 में मैने लखनऊ विश्वविद्यालय में दाखिला लिया । LLB (honrs) जो 5 साल का कोर्स था ।

6. उस समय 1200 रुपए लगा था । अनुसूची जाति में होने कारण मुझे दाखिला तो मिल गया।  परंतु मुझे ये नही बताया गया की ये कोर्स सेल्फ फाइनेंस हैं । जिसकी शुल्क प्रति छमाही 25000 रुपए हैं ।

7.उस समय मुझे पता नहीं था । इस कोर्स की शुल्क 25000रुपए हैं एक छमाही की ।

8.प्रथम वर्ष में मेरी छात्रवृति मुझे मिली  मैने उसे जमा कर दिया ।

9. दूसरी वर्ष मेरी मेरी छत्रवृति नही आ पाई । मैने बहुत प्रयास किया ।
भईया जी ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) जी के एस्पेसल सेक्रेटरी सर जी  से मिल कर बहुत दौड़ भाग कर के हर जगह जा कर प्रवेश लिया ।

10.लखनऊ विश्वविद्यालय  रजिस्टार सर के कहने पर मुझे दाखिला मेला ।  शून्य शुल्क पर मिला मुझे  ये नही बताया गया की । 50000 रुपए जमा करना होगा ।

11.तृतीय वर्ष में मेरी छात्रवृत्ति मिली  मैने उसे जमा कर दिया और  दाखिला  लिया।

12. चतुर्थ वर्ष में  कोविड कोरोना के कारण मैं छात्रवृति भरा मिल नही पाई । मेरे परिवार की आर्थिक स्थिति सही न होने कारण मैं ये जमा नहीं कर पाया । मैं परीक्षा भी नही दे सका

13. मुझे मात्र 100000 रुपए ही जमा करना है । सेमेस्टर 3,4,7,8,की शुल्क ही जमा करना हैं ।

14. 9 सेमेस्टर में 225 रुपए जमा कर के मुझे प्रवेश मिल जायेगा । जिसकी परीक्षा दिसंबर में होती हैं।

15. ये तभी हो सकता हैं जब मैं ये पुरानी शुल्क जमा करने में समर्थ हो सका  ।

16. मैं छात्रवृति भी कर सकुगा ।  सेमेस्टर 10  मुझे अप्रैल में देना हैं  l

17.  ये फीस चालान के माध्यम से जमा होगी । तभी मेरा नाम प्रोटल में समलित हो सकेगा । क्यों की मेरी  फीस के समय में विश्व विद्यालय में ऑनलाइन की प्रकिया नही थी ।

18. ऑनलाइन और पोटल प्रक्रिया 2017 से शुरू हुई हैं ।

ASHOK KUMAR
Mobile number +91-9721961347

Read More

support