लीवर ट्रांसप्लांट शिवा पांडेय 4साल की बच्ची है | Milaap
लीवर ट्रांसप्लांट शिवा पांडेय 4साल की बच्ची है
1%
Raised
Rs.1,650
of Rs.2,000,000
5 supporters
  • Abhinav

    Created by

    Abhinav Pandey
  • SP

    This fundraiser will benefit

    Shiva Pandey

    from New Delhi, Delhi

Story

ऐसी अपील कभी पहले लिखा नहीं। लिखते हुए हाथ कांप रहे हैं। मुश्किल हो रहा है। संकोच भी बहुत हो रहा है। यह भी कि लोग क्या-क्या सोचेंगे। कहेंगे। पता नहीं क्या-क्या याद आ रहा है। फिर भी लिख रहा हूं। लिख रहा हूं कि क्या पता एक बेटी की जान बच जाए। बेटियां साझी होती हैं।

यह 4 साल की लड़की शिवा पांडेय हैं। लीवर की समस्या है। डाक्टर लीवर ट्रांसप्लांट के लिए कह रहे हैं। अभी तुरंत प्लाज़्मा रिफ्रेश होना है। शिवा पांडेय अभी दिल्ली के वसंत कुंज  स्थित इंस्टीट्यूट आफ लीवर एंड बिलियरी साइंस [ इल्बस ] हॉस्पिटल में एडमिट हैं। डाक्टर 30 लाख रुपए से अधिक का खर्च बता रहे हैं। अभी रोज 40 - 50 हज़ार रुपए खर्च हो रहे हैं। शिवा के पिता सत्येंद्र पांडेय गोरखपुर के हैं। सात हज़ार रुपए महीने की छोटी से प्राइवेट नौकरी करते हैं। बेटी शिवा का इलाज कोई 6 महीने से करवा रहे हैं। गोरखपुर के डाक्टरों ने इलाज में हार मान कर दिल्ली के इस अस्पताल भेज दिया।

इस विराट कोरोना काल में इसी अप्रैल के पहले हफ्ते में सत्येंद्र ने तीन दिन के भीतर ही अपने माता-पिता दोनों को खो दिया। अब माता-पिता के श्राद्ध के बाद बेटी को बचाने गोरखपुर से दिल्ली आ गए हैं। मैं ने इन्हें दिल्ली जाने के लिए मना किया था। दिल्ली के अस्पताल और डाक्टरों का सुरसा सा मुंह जानता था। जानता था कि यह खर्च उन के वश का नहीं। लेकिन सत्येंद्र  माने नहीं और बेटी की जान बचाने के लिए बेटी को ले कर दिल्ली पहुंच गए हैं।

अब उन्हें समझ नहीं आ रहा कि इतने सारे पैसे वह कहां से लाएं। ऐसे में सत्येंद्र पांडेय ने कल रात मुझे फोन किया। मुझे समझ नहीं आया कि इस कोरोना काल में इतना सारा पैसा कहां से इन्हें दिलवाऊं। अब सोचा कि यहां विवरण लिख दूं। क्या पता थोड़ा-थोड़ा ही लोग मदद कर दें तो सत्येंद्र पांडेय की बेटी शिवा पांडेय की जान बच जाए। कोई एन जी ओ , कोई सरकार मदद कर दे। लोग मदद कर दें। क्या पता कोई सोनू सूद मिल जाए। एक बात और वह यह कि सलाह नहीं , मदद की दरकार है। जिस को जो बने करे। डिटे

Read More

Know someone in need of funds for a medical emergency? Refer to us
support