Help Prateek Win His Final Battle of 6 months With Covid-19 | Milaap
Help Prateek Win His Final Battle of 6 months With Covid-19
10%
Raised
Rs.3,48,598
of Rs.35,00,000
319 supporters
  • PS

    Created by

    Pranjal Shukla
  • PS

    This fundraiser will benefit

    Prateek Shukla

    from Bhopal, Madhya Pradesh

Story

This is a story of my elder brother fighting with Covid-19 since 6 months just to breathe on his own. He needs your support and blessings because even after all the sufferings and pain he keeps a smile on his face and says  "I will fight this and win".

यह मेरे बड़े भाई की कहानी है जो 6 महीने से सिर्फ अपने दम पर सांस लेने के लिए कोविड-19 से लड़ रहा है। उसे आपके समर्थन और आशीर्वाद की आवश्यकता है क्योंकि सभी कष्टों और दर्द के बाद भी वह अपने चेहरे पर मुस्कान रखता है और कहता है "मैं इससे लड़ूंगा और जीतूंगा"।
 

Prateek was infected with Covid-19 in May 2021, CT score 25/25, 100% lung involvement.

मई 2021 में मेरे बड़े भाई प्रतीक शुक्ला को कोविड -19 हो गया था, सी टी स्कोर 25/25 यानी फेफडों में 100 % क्षति इंफेक्शन।
Initially, he was admitted to Parul Hospital, Bhopal (MP) where he was given Non-invasive Ventilator Machine support for 20 days and Invasive Ventilator support for 1 day.
Treatment cost us Rs.19,30,000/-.

शुरुआत में, उसे पारुल अस्पताल, भोपाल (मप्र) में भर्ती किया गया जहाँ उसे 20 दिनों तक नॉन-इनवेसिव (NIV) वेंटीलेटर मशीन और 1 दिन के लिए इनवेसिव वेंटीलेटर मशीन पर रखा गया। इस इलाज का खर्चा हमे 19,30,000 रुपये पड़ा।


On 12th June we shifted him on oxygen support to Bansal Hospital, though out of our budget but one of the best we could have shifted him to in Bhopal City.
His oxygen requirement increased after shifting, therefore he again had to settle himself in the most suffocating environment to breathe, the Non-Invasive Ventilator Machine for continuous 2 months.

12 जून को उसे ऑक्सीजन सपोर्ट पर बंसल अस्पताल शिफ्ट किया गया, हालांकि यह हमारे बजट से बाहर था मगर भोपाल शहर में बेहतर इलाज का सबसे उत्तम उपय यही था। शिफ्ट होने के बाद उसकी ऑक्सीजन की आवश्यकता पहले से भी अधिक बढ़ गई और इसलिए उसे एक बार फिर अपने आप से एनआईवी वेंटिलेटर मशीन के घुटन भरे माहौल में रहने का समझौता करना पड़ा, वो भी लगातार 2 महीने तक।

His CT scan of 25th July showed some major improvements. Later, due to some issues, a CT scan was done again on 12th August which showed further improvement but oxygen requirement did not improve at the same pace.

जब 25 जुलाई को उसका सी टी स्कैन किया गया तो उसमे उसके स्वास्थ्य में प्रमुख सुधार दिखायी दिया | 
बाद में जब किन्ही दिक्कतो के कारण 12 अगस्त को दोबारा उसका सी टी स्कैन किया गया तब और भी सुधार के लक्षण दिखाई दीये परंतु उसके ऑक्सीजन की आवश्यकता का स्तर में उस गति से सुधार नहीं था जितना होना चाहिए।

He was then discharged on 8th September on high oxygen support expecting that parameters would improve when he gets home environment after months.
Till then we already had a hospital bill of Rs.18,34,793/- in our hands.

8 सितंबर को हाई ऑक्सीजन सपोर्ट के साथ उसे डिस्चार्ज किया गया, इस उम्मीद में की इतने लंबे समय के बाद, 5 महीने के बाद जब घर का वातावरण मिलेगा तब उसके स्वास्थ्य में सुधार जरूर आएगा। तब तक 18,34,793/- रूपए जितनी भारी रक्म का अस्पाताल का बिल हमारे सामने आ चुका था।

Unfortunately, things were not in our favor and we had to re-admit him again on 15th September. He was diagnosed with secondary lungs infection. The reason could not be detected and the Secondary Infection was just one of the possibilities as per the doctors.

दुर्भाग्यवश, चीज़ें हमारे पक्ष में नहीं रही और हमें उसे 15 सितंबर को दोबारा फिर से भर्ती करना पड़ा। वह सेकेंडरी लंग इंफेक्शन से ग्रसित पाया गया। बल्कि वजह समझ पाना मुश्किल था, सेकेंडरी लंग इंफेक्शन भी डॉक्टर्स के अनुसार बस एक अंदाजा/संभावना थी। 

His CT scan showed major deterioration in the lungs. Some medication worked for us but not enough to completely get rid of the oxygen support.

सी टी स्कैन में उसके फेफ़डों की हालत और भी ज्यादा खराब होने के आसार हैं, ऐसा सामने आया। कुछ दवाईयों से हमारी सहायता जरूर हुई मगर इतनी भी नहीं के ऑक्सीजन सपोर्ट से पूरी तरह छुटकारा मिल सके।

Just being 27, my brother is not only fighting to breathe on his own but also with Ankylosing Spondylitis and other complications of covid such as coughing, insomnia, headaches, body aches, weakness, tiredness, anxiety, depression, stress, and the list goes on. This is surely not the place where he belongs, nobody deserve all the suffering.

एक 27 साल का युवा होते हुए भी मेरा भाई ना ही सिर्फ खुलकर सांस लेने के लिए लड़ रहा है, बल्कि आंक्यलोसिंग स्पॉन्डिलाइटिस और कोविड के अन्य और भी कई सारे उलझनो से जूझ रहा है जैसे खांसी, अनिद्रा, सर दर्द, कमज़ोरी, थकान, एंग्जायटी, डिप्रेशन (अवसाद), तनाव .. इस सूची का अंत बता पाना मुश्किल है। जो भी हो, ना मेरे भाई का और ना ही किसी और का इस परिस्थिती में होना उचित है। 

These hurdles did not allow him to recover from the basic disease and he is unable to get specific treatment also as these are interrelated.

उसका एकसाथ इतनी कठिनाईओं से जूझना उचित नहीं है, वह भी इस हद तक तो बिलकुल भी नहीं। इन सभी मुसीबतों के कारण वह मूल बीमारी से भी उबर नहीं पा रहा है, और कोई विशेष इलाज करना भी बहुत मुश्किल है क्योंकि स्वास्थ्य की ये सभी परेशानियां आपस में एक दुसरे से परस्पर जुड़ी हुई है। 

After all the attempts the doctors have suggested us to shift him to a higher center for further treatment.
Therefore, we are shifting to Yashoda Hospital, Secunderabad Unit, Hyderabad, Telangana.
The estimated expenses are as follows:
Transportation Cost  ( Air Ambulance) = Rs.6,00,000/-
Initial Evaluation = Rs.5,00,000/-
Estimated ICU Stay = Rs.50,000 per day  x 15 days = Rs.7,50,000/-
Medication + Stay other than ICU + complications, if any = Rs.10,00,000 - Rs.15,00,000/-
Lung Transplant (if required) = Rs.30,00,000/-

सभी संभव प्रयासों को आज़मा लेने के बाद डॉक्टर ने हमें उसे आगे के इलाज के लिए बड़े सेंटर में शिफ्ट करने की सलाह दी है। इसलिए हम अब यशोदा अस्पाताल, सिकंदराबाद यूनिट, हैदराबाद, तेलंगाना शिफ्ट होने जा रहे हैं। इसी बाबत होने वाले सारे खर्चे निम्नलिखत है:
परिवहन का खर्चा (हवाई एम्बुलेंस द्वारा) = रूपये 10,00,000/-
प्रारंभिक जांच = रुपये 5,00,000/-
आईसीयू चार्ज = रुपये 50,000 प्रति दिन x 15 दिन = रुपये 7,50,000/-
दवाईयां + अस्पताल में भर्ती (आईसीयू के अलावा) शुल्क + अन्य कोई जतिलता, यदि हो जाए तो = रुपये 10,00,000 से 15,00,000 के बीच
फेफड़ो का प्रत्यारोपण यदि ज़रुरत पड़ती है तो = रुपये 30,00,000/-

On present day, we again have a bill of Rs.7,67,515/- till 26th October 2021, total amounting to Rs.45,32,308/- this will increase further by 4-5 days as currently Prateek is not settled to handle transportation.

आज के समय में, हमारा बिल 26 अक्टूबर 2021 तक फिर से 7,67,515/- हो गया है, कुल 45,32,308/- रुपये का भुगतान किया है, यह 4-5 दिनों तक और बढ़ जाएगा क्योंकि वर्तमान में प्रतीक परिवहन को संभालने के लिए पूर्णत: तैयार नहीं है।


Naturally, my brother has lost his job due to this prolonged illness and our parents are near to their retirement as well, while I am still a student with no source of monetary earnings. The treatment has drained all our funds and we are already in huge debts.

स्वाभाविक रूप से मेरे भाई ने इस लंबी बीमारी के कारण अपनी नौकरी खो दी है और हमारे माता-पिता भी सेवानिवृत्ति के करीब हैं, जबकि मैं अभी भी एक छात्रा हूं जिसके पास पैसौं का कोई स्त्रोत नहीं है। इलाज ने हमारे सारे फंड को खत्म कर दिया है और हम पहले से ही भारी कर्ज में हैं।

While the world today is starting to move towards normalcy, our family still struggles with severe mental and financial crisis. Now, we battle through the present, remembering the good old times of the past, in hopes of a kinder future.

वर्तमान में सब कुछ सामान्य हो चुका है, मगर हमारा परिवार अभी घोर मानसिक और आर्थिक संकट से जूझ रहा है,अब हम एक अच्छे भविष्य की आशा में, पुराने अच्छे समय को याद करते हुए, वर्तमान से लड़ रहे है।


We are just a simple middle-class family of four, now struggling hard to survive. It is mainly my brother who is going through so much, but seeing him battle for his life every day, the lives of all 3 of us has become equally difficult too.

हम चार लोगों का एक साधारण मध्यमवर्गीय परिवार हैं, जो अब जीवित रहने के लिए कठिन संघर्ष कर रहा है। यह मुख्य रूप से मेरा भाई है जो इतना कुछ सहन कर रहा है, लेकिन उसे हर दिन अपने जीवन के लिए संघर्ष करते हुए देखना, हम तीनों का जीवन भी उतना ही कठिन हो गया है। 

Please help us. We also want to get back to our normal lives and be together like earlier.
कृपया हमारी सहायता करें। हम भी अपने सामान्य जीवन में वापस आना चाहते हैं और पहले की तरह एक साथ रहना चाहते हैं।

I need my big brother, my mentor, my best friend, my everything to be here with me, standing by my side in every situation as he has always been. He is our pride, the shine, and the pillar of our family. We need to bring him back home healthy and happy whatsoever be the cost.

मुझे अपने बड़े भाई की जरूरत है, मेरे गुरु, मेरे सबसे अच्छे दोस्त, मेरा सब कुछ, मेरे साथ यहां मेरे साथ हर परिस्थिति में खड़ा रहने वाला मेरा भाई, वापिस चाहिए । वह हमारा गौरव, आँखों का तारा और हमारे परिवार का स्तंभ है। हमें उसे स्वस्थ और खुश घर वापस लाने की जरूरत है, चाहे कुछ भी कीमत हो।

It is my brother’s warrior-like willpower and mental & emotional strength that he gives his all every single day with the endless hope and that things shall get better soon. Please let us help him keep up with his courage and make him fine like he should’ve been.

यह मेरे भाई की योद्धा जैसी इच्छाशक्ति और मानसिक और भावनात्मक शक्ति है कि वह अपना हर एक दिन अंतहीन आशा के साथ बिता देता है की चीजें जल्द ही बेहतर हो जाएंगी। कृपया हमें उसके इस साहस को बनाए रखने में मदद करें और उसे ठीक वैसे ही बनाएं जैसे उसे होना चाहिए था।

Every penny counts for us. We will forever be grateful to you and highly obliged as even a small contribution by you will help us to get our life back at home safely. With all the faith I have in God and humanity, I am sure all of us together can help him win his battle for a normal and healthy life.

एक-एक पैसा हमारे लिए मायने रखता है। हम हमेशा आपके आभारी रहेंगे और सदैव कृतज्ञ रहेंगे क्योंकि आपका एक छोटा सा योगदान भी हमें अपने जीवन को सुरक्षित रूप से घर वापस लाने में मदद करेगा। ईश्वर और मानवता में मेरे पूरे विश्वास के साथ, मुझे यकीन है कि हम सब मिलकर उसे एक सामान्य और स्वस्थ जीवन के लिए उसकी लड़ाई जीतने में मदद कर सकते हैं।

Please pray for his well being and speedy recovery.
कृपया उनके सलामती और शीघ्र स्वास्थ्य लाभ होने की प्रार्थना करें।

Thank you.
Pranjal Shukla.

Read More

Know someone in need of funds for a medical emergency? Refer to us
support